" सबैको रहर : समृद्द कुश्मा नगर । "

स्थानीय स्वायत्त शासन ऐन २०५५